India Mansoon Travel Destinations

By | September 5, 2020

Top 7 Mansoon Travel Destinations in India/

मानसून के दौरान इंडिया में कहां ट्रैवल करें बड़ा सवाल है। India Mansoon Travel Destinations को किसी क्रम में बताना वाकई मुश्किल काम है। फिर भी हमने कोशिश की है इंडिया के Top 7 Mansoon Travel Destinations के बारे में बताने की जहां आप मानसून के दौरान जा सकते हैं।

हमारे देश में मानसून का औसत समय जून से सितंबर के बीच करीब चार महीने का माना जाता है। इस हिसाब से अभी हमारे पास सितंबर का पूरा महीना मानसून ट्रैवल के लिए शेष है। यदि आप चाहें तो India Mansoon Travel Destinations को विजिट कर सकते हैं।

 

India Mansoon Travel Destinations 1 India Mansoon Travel Destinations

मानसून के दौरान इंडिया में कहां ट्रैवल करें..?

Where to travel in India during Mansoon

By Vivek Singh.

1.लद्दाख (केन्द्र शासित प्रदेश )

दिल को छू लेने वाले खूबसूरत मंजर, Crystal clear sky ऊंचे Mountain Passes, और सांसें थाम देने वाले Adventures के साथ मानसिक सुकून। अगर दुनिया में कहीं एक साथ संभव है तो वह है, लद्दाख। लद्दाख दुनिया के सबसे ऊंचे पठारी क्षेत्रों में से एक है। लद्दाख अब एक केन्द्रशासित प्रदेश है। आजादी के बाद यह जम्मू-कश्मीर राज्य का एक अंग था। लद्दाख तिब्बत के पठार का ही एक भाग है। जिसकी औसत ऊंचाई करीब 3000 मी0(9800 फीट) है।

यदि आप भारत की राजधानी नई दिल्ली से लद्दाख जाते हैं तो इसका मतलब आप समूचे हिमालय पर्वत को पार कर तिब्बत के पठार पर कदम रख चुके है। यह सोचना ही रोमांचित करने वाला है। लद्दाख के उत्तर में काराकोरम पर्वत और दक्षिण में महान हिमालय है।

सिंधु नदी लद्दाख की जीवन रेखा है। लद्दाख को Broken Moon या Moon land के नाम से भी जाना जाता है। लद्दाख के दो जिले हैं लेह और कारगिल। जिनमें से आपको लेह के नजदीक अलची, नुब्रा घाटी, जांस्कर घाटी पर्यटन के लिहाज से प्रसिद्ध हैं।

अगर आप एडवेंचर और राफ्टिंग के शौकीन हैं तो आपको जांस्कर नदी में राफ्टिंग जरूर करनी चाहिए। राफ्टिंग के लिए मई से सितंबर का महीना सबसे अच्छा माना जाता है। सितंबर के बाद जांस्कर नदी जम जाती है। सर्दियों के महीने में चादर ट्रैक के लिए देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं।

  • चादर ट्रैक

India Mansoon Travel Destinations 2 India Mansoon Travel Destinations

                                                                     चादरट्रैक जांस्कर नदी लद्दाख

सर्दियों के सीजन में लेह-लद्दाख की जांस्कर नदी जम जाती है। जमने के बाद इस नदी का पानी सफेद चादर के जैसा हो जाता है। इसी जमी हुई नदी पर ट्रैकिंग को चादर ट्रैकिंग के नाम से जाना जाता है। एक दिन में लगभग 15 से 16 किमी0 की औसत स्पीड से तकरीबन 105 किमी0 लंबे इस ट्रैक को ट्रैकर्स एक हफ्ते में पूरा करते हैं।

सदियों से लेह और जांस्कर को यह नदी कठोर ठंड में इसी तरह से जोड़े हुए है। क्योंकि जाड़ों में चादर ट्रैक ही एक मात्र रास्ता होता है। पहले यह रास्ता स्थानीय लोगों के द्वारा ही इस्तेमाल में लाया जाता था। लेकिन नेशनल ज्योग्राफिक चैनल की एक डॉक्युमेंट्री के बाद बाहर की दुनिया के लोगों को चादर ट्रैक के बारे में पता चला।

इसके बाद साल दर साल ट्रैकर्स  का आना जारी है। इस तरह  चादर ट्रैक दुनिया में फेमस होती चली गयी। कुछ लोगों के अनुसार चादर ट्रैक दुनिया के सबसे अच्छे दुर्गम रास्तों में से एक है।

इसके अलावा जांस्कर नदी रॉफ्टिंग के शौकीनों को भी निराश नहीं करती। गर्मियों में यह पहाड़ी नदी राफ्टिंग करने लायक बन जाती है।

  • पैंगोंग झील

पैंगोंग झील लद्दाख

                                                                                     पैंगोंग झील लद्दाख

दुनिया की सबसे खूबसुरत झीलों में से एक पैंगोंग झील आपका एक और डेस्टिनेशन हो सकती है। इन दिनों इंडो-चाइना विवाद के कारण गलवान घाटी के अलावा आप पैंगोंग झील का नाम भी आये दिन सुर्खियों में रहता है। 4500 मी0 ऊंचाई पर स्थित इस झील की लंबाई लगभग 134 किमी0 है। यह लद्दाख से तिब्बत की तरफ बढ़ती है। भारत और चीन के बीच ईस झील को लेकर विवाद है। LAC के नजदीक स्थित होने के कारण यहां विवाद है। विस्तारवादी चीन ने बीस किमी0 एरिया पर कब्जा कर लिय़ा है। जिसे भारत अपना क्षेत्र बताता है। बेइंतहा खूबसूरत यह झील खारी होने के बावजूद सर्दियों में जम जाती है।

आपने 3 इडियट्स फिल्म के क्लाइमेक्स में आमिर और करीना को जिस झील के किनारे देखा था, लद्दाख की पैंगोंग झील ही है।

  • मैग्नेटिक हिल या ग्रैविटी हिल

India Mansoon Travel Destinations 3 India Mansoon Travel Destinations

                                                                  मैग्नेटिक हिल लद्दाख

आपने कई बार टीवी देखते हुए उस पहाड़ी के बारे में सुना होगा जहां गाड़ियां पहाड़ी पर खुद-ब-खुद चढ़ जाती हैं, तो हम आपको बता दें, वे इसी मैग्नेटिक हिल के बारे में बताते हैं। जो लद्दाख में स्थित है। मैग्नेटिक हिल को ग्रैविटी हिल भी कहा जाता है।

यह पहाड़ी समुद्र तल से 14000 फीट ऊंचाई पर स्थित है। लेह शहर से इसकी दूरी केवल 30 किमी0 है। यहां अगर आप अपनी कार को न्युट्रल में छोड़ दे तो वह पहाड़ी की तरफ लुढ़कने लगती है। मैग्नेटिक हिल वास्तव में एक साइकोल्पस हिल है, इसके आसपास की ढ़लाने और पहाड़ियां ऑप्टिकल इल्युजन पैदा करती हैं। इसके कारण ढलान वाली सड़क पर गाड़ियां ऊपर चढ़ती हुई प्रतीत होती हैं।

इसके अलावा प्रसिद्ध बौद्ध स्तूप शांति स्तूप, दुनिया की सबसे ऊंची सड़क खार-दुंग-ला और 1999 में भारत की विजय का प्रतीक कारगिल हिल्स भी आप जा सकते हैं।

2.स्पीती घाटी हिमाचल

लद्दाख से वापस आते हुए यदि आप किसी ऐसी ऑफबीट डेस्टिनेशन की तलाश में हैं तो हिमाचल की स्पीती घाटी सबसे बेहतरीन विकल्प है। ऊंचाई पर स्थित यह घाटी हिमाचल के रिमोट एरिया में आती है। हिमाचल के उत्तर में लद्दाख, पूरब में तिब्बत, दक्षिण-पूर्व में किन्नौर और कुल्लू घाटी दक्षिण में है।

 

स्पीती घाटी हिमाचल प्रदेश

                                                स्पीती , हिमाचल प्रदेश

स्पीती से मनाली केवल 79 किमी0, कसोल 72 किमी0, लद्दाख 195 किमी0 और शिमला 150 किमी है। स्पीति की दिलकश वादियों में आने का सही समय मई से अक्टूबर के बीच है। यहां के गांवों में आप याक सफारी का मजा ले सकते हैं।

3.फूलों की घाटी उत्तराखंड

फूलों की घाटी उत्तराखंड

                                         फूलों की घाटी उत्तराखंड

देवभूमि उत्तराखंड में स्थित फूलों की घाटी अपनी कुदरती खूबसूरती के लिए जानी जाती है। 300 से अधिक प्रजातियों वाले फूलों के लिए प्रसिद्ध यह घाटी ऊपरी हिमालय में स्थित है। मानसून के दौरान फूलों की घाटी सबसे अधिक खूबसूरत लगती है। पहाड़ी जमीन पर बिछी हुई फूलों की कालीन, पीछे बैकग्राउंड में बर्फ से ढ़के पहाड़ आह्लादित करने वाला आनंद देते हैं।

फूलों की घाटी केवल अप्रैल से अक्टूबर के बीच ही खुली रहती है। Hiking (पैदल चलने )के शौकीन लोगों को फूलों की घाटी जरूर आना चाहिए।

4. देवताओं की धरती केरल

वैसे तो आप साल के किसी भी महीने में केरल जा सकते हैं। केरल पर्यटन विभाग की तरफ से गर्मियों और मानसून के लिए स्पेशल ऑफर भी चलाए जाते हैं। यदि आप किसी तरह के आयुर्वेदक उपचार के लिए केरल जाना चाहते हैं तो मानसून का सीजन आपके लिए बेस्ट है। क्योंकि यह एक ऐसा  समय है जब शरीर के रोमछिद्र आसानी से खुल जाते हैं और शरीर के अंदर के विसाक्त पदार्थ आसानी से बाहर निकल जाते हैं।

India Mansoon Travel Destinations 4 India Mansoon Travel Destinations

 

भारत के दूसरे नेशनल पार्कों की तरह केरल का परियार नेशनल पार्क भी मानसून के दौरान भी खुला रहता है। यदि आप मानसून के दौरान केरल जाते हैं तो राज्य के सबसे बड़े उत्सव ओणम् में शामिल होकर उसका आनंद ले सकते हैं। केरल ओणम् के समय अपनी नौका दौड़ के लिए भी जाना जाता है।

 

5.मेघालय, बादलों का घर

Living Root Bridge मेघालय

Living Root Bridge मेघालय

अगर वाकई आपको बरसात पसंद है तो आप पक्का मेघालय को पसंद ही करेंगे। बादलों के घर मेघालय में दुनिया में सबसे ज्यादा बारिश होती है। पूर्वोत्तर में स्थित चेरापूंजी दुनिया की नम जगह है। मेघालय के जीवित या सांस लेने वाले पुलों के बारे में मैंने पहले भी एक पोस्ट लिखी है। पूरी खबर Living Root Bridge या जीवित पुल कहां हैं?

 

6.कन्याकुमारी, तमिलनाडु

क्या अद्भुत नज़ारा होता है, बंगाल की खाड़ी, अरब सागर और हिंद महासागर जहां आपस में मिलते हैं उस स्थान का नाम है कन्याकुमारी। जिसे Cape of Kumarin के नाम से भी जाना जाता है।

हमने शुरुआत भारत के सबसे उत्तर स्थित लद्दाख केन्द्र शासित प्रदेश से की थी लेकिन अब आप दक्षिण भारत के तमिलनाडु आ चुके हैं। कन्याकुमारी तमिलनाडु का ऐसा पर्यटन स्थल है जहां आप ढ़लते सूरज के साथ निकलने वाले चांद का दीदार एक साथ कर सकते हैं।

कन्याकुमारी में तीन सागरों का मिलन

                           कन्याकुमारी में तीन सागरों का मिलन

ऐसा दुनिया में सिर्फ एक जगह होता है और वो है कन्याकुमारी। जी हां पुर्णिमा के समय आप एक तरफ हिंद महासागर में अस्त होते सूरज को देखते हैं तो ठीक उसी दिशा में निकलते हुए चांद को भी देख सकते हैं। यह दृश्य देखने के लिए पूरे साल पर्यटक कन्याकुमारी आते हैं।

तीन अलग-2 सागर, तीनों का अलग पानी का रंग रोमांचित करने वाला होता है। इसके अलावा इसी संगम पर अम्मन माता का मंदिर भी है। पार्वती देवी को यहां अम्मन माता के नाम से जाना जाता है। यहां सागर की लहरें संगीत पैदा करती हैं।

  • विवेकानन्द रॉक 

India Mansoon Travel Destinations 5 India Mansoon Travel Destinations

                  विवेकानन्द रॉक मेमोरियल, कन्याकुमारी,तमिलनाडु

पूरी दुनिया में प्रसिद्ध विवेकानन्द रॉक भी कन्याकुमारी में ही है। जहां स्वामी जी ने ध्यान लगाया था। इसके अतिरिक्त इसके अलावा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की चिता की राख भी गांधी मेमोरियल में रखी गयी है। कन्याकुमारी आनेवाले गांधी मेमोरियल भी जाना पसंद करते हैं।

7.जीरो अरुणाचल प्रदेश

अब हम India Mansoon Travel Destinations के 7वें और आखिरी मुकाम पर आ चुके हैं। यह है जीरो। जीरो अरुणाचल प्रदेश में स्थित है। जीरो कोई ऐसा टुरिेस्ट स्पॉट नहीं जिसके बारे में बहुत चर्चा की गयी हो।

यदि आप प्रकृति से प्यार करते हैं, तो आप को जीरो जरूर जाना चाहिए। यहां आप देख पायेंगे कि कैसे पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बगैर अपातिनी जनजाति के लोग कुदरत के साथ किस तालमेल से रहते हैं। 21वीं सदीं के महान समझे जाने वाले पर्यावरण विशेषज्ञों और Nature Lovers को कुदरत के साथ इंसानी गठजोड़ को जरूर देखना चाहिए।

India Mansoon Travel Destinations 6 India Mansoon Travel Destinations

अरुणाचल प्रदेश के लोअर सुबंसरी जिले में स्थित जीरो घाटी समुद्र तल से 5600 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यहां अपातिनी जनजाति की अधिकता है। महिलाएं ही परिवार की मुखिया होती हैं। खेती का सारा काम भी महिलाएं ही करती हैं। अपातिनी महिलाएं सामूहिक रूप से एक दूसरे के खेतों में काम करती हैं। जिससे उनकी मजदूरी बच जाती है। जीरो में मुख्यतया धान की फसल उगाई जाती है। Talley Valley Wildlife Santuary यहां का प्रसिद्द वन्यजीव अभयारण्य है।

Read other blogs..

 

4 thoughts on “India Mansoon Travel Destinations

  1. Thakur Akash Singh Vishen

    What a suggestion 😍😍😍 ‘wonderful briefing’ nicely done

    Reply
  2. Thakur Akash Singh Vishen

    Need a context about AYODHAYA and the places belongs to it

    Reply
    1. Vivek Singh Post author

      we a have blog on Ayodhya releted to time capsule plz read it.

      Reply
  3. Worship

    All of these seven monsoon destinations i would love to see “The Flower’s Valley” in Uttarakhand b’coz I’m a little bit coward to take adventures.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *